पटना बिहार 

ममता का ब्राह्मण प्रेम ब्राह्मणों की एकजूटता को और मजबूती देगा:-रजनीश

संजय कुमार सुमन

बिहार न्यूज़ लाइव@पटना

ब्राह्मण राज्य स्वाभिमान महासम्मेलन के राष्ट्रीय महासचिव सह प्रवक्ता रजनीश तिवारी ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा है की पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री ममता बनर्जी द्वारा अपने अपने आप को खुद को ब्राह्मण परिवार से जोरकर देखते हुए गीता का पुस्तक का वितरण उनके अंतरात्मा की ब्राह्मण ओर राष्ट्रधर्म दोनो को दर्शाता है।आज तक ब्राह्मणों ने अपने लिए सिर्फ भिक्षाटन कर एकत्रित किये गए सामग्रीयो से गूरूकुल मे पढ़ने वाले शिष्यो के बीच वितरण कर उनके उच्च सिक्षा की निंव आदि काल से रखने का प्रयास किंया जिसका परिणाम है की ब्राह्मणों का ही देन है की इन्ही प्रयाशो के कारण पुरे विश्व पटल पर भारत शीर्ष स्थान पर आदि काल से अबतक सम्मान बनाये रखा हैं जो गर्व की बात हैं।
श्री तिवारी ने कहा की ब्राह्मणों ने अपने त्याग और बलिदान का परिचय का मोहताज नहीं रहा है वह अपने कर्मो पर विस्वास करता हैं लेकिन दुख इस बात की हैं ऊसे दुसरे समाजो से ज्यादा अपनी समाज की एक दुसरे के प्रति घटती सहयोगात्मक विचार धारा का अभाव समाज को हासिये पर ले जाने के लिए चिन्ता का विषय है। दुख तो इस बात का है हम दुसरे के बाडे़ मे सोचते है लेकिन हम अपने गरीब ब्राह्मण भाइयो के प्रति चिंतित नहीं रहते। खैर हमे खुशी है देर ही सही पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का ब्राह्मण प्रेम वहां के रहने वाले गरीब ब्राह्मणों की गरीबी दूर करने के लिए जरूर कार्य करेगा। देर ही सही वहा के ब्राह्मणों के लिए ममता बनर्जी का ब्राह्मण प्रेम ब्राह्मण समाज के लिए एक अच्छा शुभ संकेत है।
रजनीश तिवारी ने कहा की ब्राह्मण स्वाभिमान महासम्मेलन इसका स्वागत करती है और आने वाले समये में गाँधी मौदान में होने महासम्मेलन के सदस्य ममता बनर्जी से मिलेगा और इस सम्मेलन की सफलता पर चर्चा करेगा।

Related posts