सहरसा। मच्छरों के काटने से होने वाली बीमारियों से बारिश के मौसम में बचें

0 6

🔼जल जमाव मच्छरों के पनपने का मुख्य कारण।

🔼बीमारी से बचने का सबसे अच्छा तरीका बचाव करना।

सहरसा। 

जिले में बारिश  का होना जारी है। ऐसे समय में वेक्टर जनित बीमारियों का प्रभाव बढ़ जाता है। इसके लिए जरूरी है कि लोग सचेत रहें। ताकि वेक्टर जनित बीमारियों खासकर मच्छरों के काटने से होने वाली बीमारियों से उनका बचाव हो सके। बारिश  के मौसम में मच्छर सुरक्षित स्थान की तलाश में लोगों के घरों एवं पालतु जानवरों के रहने की जगहों की तरफ चले आते हैं। बारिश  का जल जमाव मच्छरों के पनपने का मुख्य कारण है। मच्छरों के काटने से मलेरिया, कालाजार, फलेरिया, डेंगू  आदि कई प्रकार की बीमारियों का प्रभाव बढ़ जाता है।

 

🔼न होने दें घरों के आस-पास जल जमाव-

जिला वेक्टर जनित रोग नियंत्रण पदाधिकारी डा. रविन्द्र कुमार ने बताया बचाव बीमारियों से बचने का सबसे अच्छा तरीका है। बारिश  के मौसम में वेक्टर जनित बीमारियों का शिकार होने से बचने के लिए जरूरी है कि उन कारणों को नष्ट किया जाय या उनसे सम्पर्क से में आने से बचा जाय। कारणों को नष्ट करने की ओर ध्यान आकृष्ट कराते हुए डा. कुमार ने कहा अपने घरों के आस-पास जल जमाव न होने दें, यदि हो जाये तो उसे नष्ट करें। घरों के आस-पास गंदगी न फैलायें, घरों के आस-पास कचरा प्रबंधन का समुचित उपाय सुनिश्चित  करें। उन स्थानों का नियमित तौर पर साफ-सफाई करना सुनिश्चित करें।  घरों के आस-पास यदि अधिक पानी इकट्ठा हो जाये जिसे नष्ट नहीं किया जा सकता है तो निकट के स्थ्लों की साफ-सफाई नियमित तौर पर करें। कीटनाशक दवाओं का छिड़काव, ब्लीचिंग पावडर आदि उपयोग करें। ताकि मच्छरों का प्रकाप बढ़ने न पाये।

🔼उचित वस्त्र एवं मच्छरदानी का उपयोग जरूरी-

जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डा. रविन्द्र कुमार ने बताया वेक्टर जनित बीमारियों से बचने के लिए मच्छरों के सम्पर्क में आने से बचना चाहिए। इसके लिए जरूरी है कि पूरे शरीर को अच्छी तरह से  ढकने वाले वस्त्रों का उपयोग करें। सोते समय मच्छरदानी का उपयोग करें। उन्होंने यह भी बताया बारिश  के समय पीने के पानी के स्रोत  एवं भोज्य पदार्थ आसानी से दूषित हो सकते हैं। इसलिए इस समय पानी को उबालकर ही पीयें। ताजा बने भोजन का ही सेवन करें। पौष्टिक एवं आसानी से पचने योग्य भोजन करें। बच्चों पर सुबह तथा शाम खास निगरानी रखें। इस समय मच्छरों का प्रकोप बढ़ जाता है।

जिससे  बीमार होने का खतरा भी बढ़ जाता है। उन्होंने कहा किसी भी बीमारी से बचने का सबसे अच्छा तरीका बचाव करना ही है। इसलिए बारिश  के मौसम में वेक्टर जनित बीमारियों से बचने के लिए आवश्यक उपाय कर बीमार होने से बचें।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Managed by Cotlas