सुपौल: 19 जनवरी को प्रस्तावित मानव श्रृंखला की सफलता को लेकर डीएम ने की जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक

48

सोनू कुमार भगत की एक रिपोर्ट।

छातापुर (सुपौल)।

19 जनवरी को प्रस्तावित मानव श्रृंखला की सफलता को लेकर रविवार को डीएम महेंद्र कुमार, डीडीसी मुकेश कुमार सिन्हा ने प्रखंड कार्यालय परिसर में प्रखंड क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों और पदाधिकारियों के साथ बैठक की।

बैठक में डीएम ने कहा कि इस बार राज्य में 16 हजार किलोमीटर की मानव श्रृंखला बनाई जाएगी। उन्होंने बताया कि मुखिया, शिक्षकों के अलावे वार्ड सदस्यों को पूर्ण जवाबदेही दी गई है। सभी वार्ड सदस्यों को सौ-सौ लोगों की मानव श्रृंखला बनाने की जिम्मेदारी होगी। उन्होंने बताया कि सभी वार्ड सदस्य अपने-अपने क्षेत्रों में लोगों को ससमय भाग लेने के लिए जागरूकता अभियान चलाकर प्रोत्साहित करेंगे। वहीं सभी मुखिया को अपने-अपने पंचायतों में वार्ड सदस्यों के साथ बैठकर उनकी जवाबदेही का जिम्मेदारी सौपें । इसके लिए आंगनबाड़ी सेविका, सहायिका, जीविका दीदी, कला जत्था टीम और साक्षरता कर्मी का सहयोग सुनिश्चित किया गया है। डीएम श्री कुमार ने बताया कि मानव शृंखला को लेकर विद्यालय सेे टैगिंग, चिकित्सा व्यवस्था, वाहन की व्यवस्था, ट्रैफिक व्यवस्था प्रखंड प्रशासन द्वारा की जाएगी। लोगों को जागरूक करने, दीवाल लेखन, मेहंदी लेखन, कला जत्था टीम एवं जीविका दीदी द्वारा जागरूकता अभियान चलाने में तेजी लाने का बात कही। कहा कि जैविक खेती वातावरण एवं स्वास्थ्य के लिए सर्वोत्तम है। कहा कि कई जिला में जल स्रोत बहुत ज्यादा थे। उसके बावजूद भी भूजल स्तर नीचे जा रहा है, इसका मुख्य कारण यह है कि जो हमारे प्रारम्पारिक जल स्रोत थे, पोखर, तालाब, कुंआ उनका अतिक्रमण हो रहा है। जिले में सार्वजनिक ऐसे तालाब,पोखर को चिन्हित किया गया है, और उनके जीवनोउधार की कार्यवाई की जा रही है । कहा कि शौचालय का कई ऐसे लोग हैं जो शौचालय नहीं बनाया है, सभी ग्राम पंचायत के मुखिया ऐसे लोगों की सूची प्रखंड में जमा करें। कई ऐसे लाभुक होते हैं जिनके पास जमीन नहीं हैं और वो शौचालय का उपयोग नहीं कर पा रहे हैं। उनके लिए ख़ासकर महादलित टोलों में सामुदायिक शौचालय के लिए जमीन चिन्हित कर प्रखंड कार्यालय में सूची जमा करें, हमलोग सामुदायिक शौचालय बनाएंगे ।

इस अभियान के तहत प्रत्येक परिवार को शौचालय की उपलब्धता सुनिश्चित की जानी है। इतना ही नहीं जो शौचालय बन गया है उसका उपयोग सुनिश्चित हो। यह इसलिए जरूरी है क्योंकि दो महीने बाद जनगणना का कार्य शुरू होगा, जनगणना के दौरान हरेक घर में जाकर पुछा जाएगा कि शौचालय बना है या नहीं । इसलिए जो परिवार छूट गया है उनका शौचालय जल्द से जल्द निर्माण कराने का पहल किया जाए । बताया कि इसबार एन एच पर मानव शृंखला नही बनाई जाएगी। बल्कि केवल स्टेट हाइबे पर श्रृंखला बनाने का कार्य रुट चार्ट के हिसाब से किया जाना है।

मौके पर एसडीएम विनय कुमार सिंह,लोक शिकायत पदाधिकारी कृष्ण मुरारी, बीडीओ अजित कुमार सिंह,
प्रखंड प्रमुख रूबी कुमारी, पीओ अमरेंद्र कुमार, मुखिया प्रतिनिधि संजीव कुमार भगत, बीईओ रामनारायण मेहता,जीविका बीपीएम राम कुमार बाबू, जीवछपुर मुखिया प्रतिनिधि रमेश कुमार मुखिया, उपेन्द्र प्रसाद सिंह, ठूठी मुखिया प्रतिनिधि अशवनी कुमार झा उर्फ क्रांति झा, डहरिया मुखिया पंकज यादव, सदानंद चौधरी, अरुण मंडल, शमसुल होदा, मेहुद्दीन, डॉ. श्याम सुंदर शर्मा आदि उपस्थित थे ।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

संगम बाबा
Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More