छपरा:राजभवन ने विभिन्न मामलों के निष्पादन के लिए जेपीयू के कुलपति के नाम जारी किया पत्र

0 425

छपरा सदर : जयप्रकाश विश्वविद्यालय के विभिन्न मामलों को लेकर के विभिन्न व्यक्तियों के द्वारा राजभवन को आवेदन प्रेषित किए गए थे। इस आवेदन के आलोक में राजभवन सचिवालय के संयुक्त सचिव राजकुमार सिन्हा ने जयप्रकाश विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ फारूक अली को पत्र निर्गत कर इन मामलों के निष्पादन हेतु निर्देश जारी किया गया है।

जिसमें सीनेट सदस्य नवलेश कुमार सिंह के द्वारा जयप्रकाश विश्वविद्यालय छपरा में नियुक्ति एवं पदस्थापित प्राचार्य सहित 12 शिक्षकों एवं तीन पदाधिकारियों के निलंबन का मामला , वही शशि कुमार पत्रकार के द्वारा अपने 2014 के इतिहास विभाग के पीएसडी का परीक्षण एवं वाइवा, डॉ अनमोल ठाकुर सहायक अध्यापक भौतिकी विभाग के स्थानांतरण का मामला।

रामेश्वर तिवारी का पीएचडी का वर्क एंड कोर्स का मामला , बलराम सिंह रसायनशास्त्र विभाग तपेश्वर सिंह कॉलेज छपरा के अनुदान की राशि का दुरुपयोग करने एवं प्रबंध समिति तपेश्वर सिंह महाविद्यालय छपरा को भंग करने और उसके विरुद्ध वित्तीय अनियमितता की जांच करने की मांग का मामला , किरण प्रकाश गुप्ता के प्रोन्नति का मामला , डॉ सुरेंद्र मिश्रा का अप्रैल 2019 से मार्च 2020 तक संशोधित पेंशन राशि भुगतान का मामला , अनुराग कुमार द्वारा जयप्रकाश विश्वविद्यालय के 200 कर्मियों के कमीशन का उठाया गया मामला, श्रीधर दास द्वारा बीडीएस कॉलेज गरखा के स्नातक प्रथम खंड में नामांकन मद में विद्यार्थियों के प्रति नामांकन ₹10000 अवैध वसूली आदि का मामला वही भोला प्रसाद सिंह कॉलेज के प्राचार्य सिद्धार्थ शंकर सिंह द्वारा राम जयपाल कॉलेज छपरा के मार्च 2021 में वेतन बिल में विभिन्न विसंगतियों का मामला तथा डॉ राकेश कुमार श्रीवास्तव का अनुभव प्रमाण पत्र के संबंध में मामला का उल्लेख करते हुए संयुक्त सचिव ने पत्र जारी किया है कि इन व्यक्तियों से विभिन्न समस्याओं के निराकरण हेतु इस पर नियमानुसार निष्पादन की कार्रवाई सुनिश्चित करें एवं की गई कार्रवाई से आवेदकों तथा इस सचिवालय को अवगत कराएं।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Managed by Cotlas