हरियाणवी सिंगर–डांसर के खिलाफ धोखाधड़ी करने मामला दर्ज : लखनऊ की कोर्ट ने सपना चौधरी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया है।

हरियाणवी सिंगर–डांसर के खिलाफ धोखाधड़ी करने मामला दर्ज : लखनऊ की कोर्ट ने सपना चौधरी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया है।

13

बिहार न्यूज़ लाइव:–

हरियाणवी सिंगर और डांसर सपना चौधरी आए दिन किसी न किसी कारण से सुर्खियां बटोरती हुई नजर आती हैं. फिर चाहे वो अपने सॉन्ग के कारण हो या फिर ड्रेसिंग सेंस के कारण. लेकिंन वहीं
दिनों सपना चौधरी पर फैंस को धोखा देने और पैसा हड़पने मामले में सपना चौधरी के खिलाफ अरेस्ट वारंट जारी हैं
फैंस को धोखा देने और पैसा हड़पने के मामले में सपना चौधरी के खिलाफ अरेस्ट वारंट जारी,
अपने एक कार्यक्रम को रद्द करने और कार्यक्रम देखने आए लोगों का टिकट का पैसा न लौटाने के मामले में सपना चौधरी की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही है. लखनऊ के कोर्ट ने सपना चौधरी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया है. हाल ही में सपना ने लखनऊ के आशियाना थाने में दर्ज मुकदमे से खुद को मुक्त करने के लिए कोर्ट से अपील की थी. अर्जी में कहा गया था कि उन्होंने कोई पैसा नहीं लिया है और न पैसे लेने के कोई सबूत है. कोर्ट ने उनकी इस अर्जी को खारिज कर दिया था.
अपने डांस से देश-दुनिया में मशहूर हरियाणवी डांसर सपना चौधरी को लखनऊ के एसीजेएम कोर्ट से झटका लगा है. लखनऊ के कोर्ट ने सपना चौधरी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया है. अपने एक कार्यक्रम को रद्द करने और कार्यक्रम देखने आए लोगों का टिकट का पैसा न लौटाने के मामले में बुधवार को गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया है. हाल ही में सपना ने लखनऊ के आशियाना थाने में दर्ज मुकदमे से खुद को मुक्त करने के लिए कोर्ट से अपील की थी. जिससे एसीजेएम कोर्ट ने खारिज कर दिया था. बता दें कि 13 अक्टूबर 2018 को सपना चौधरी के खिलाफ आशियाना थाने में एफआईआर दर्ज कराई गई थी. शिकायत में सपना पर पैसे लेकर भी डांस प्रोग्राम न करने का आरोप लगा था.

शिकायतकर्ता ने एफआईआर में कहा था कि, 13 अक्टूबर 2018 को सपना चौधरी के एक एवेंट के लिए 300 रुपये की टिकट को ऑनलाइन और ऑफलाइन बेचे गए थे. शिकायत कर्ता ने आरोप लगाया था कि टिकटे बेचकर लाखों रुपए कमाए गई थी, लेकिन इसके बाद भी सपना चौधरी ने कोई कार्यक्रम में डांस नहीं किया. जिसके चलते लोगों ने दर्शकों ने काफी हंगामा और तोड़फोड़ भी किया था. शिकायतकर्ता ने आशियाना थाने की किला चौकी के सब इंस्पेक्टर फिरोज खान ने 13 अक्टूबर 2018 को सपना चौधरी, रत्नाकर उपाध्याय ,अमित पांडे, पहल इंस्टिट्यूट के इबाद अली, नवीन शर्मा और जुनैद अहमद के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी. कोर्ट ने साफ कहा है कि आरोपी सपना चौधरी के खिलाफ आरोप तय करने के पर्याप्त सबूत पत्रावली में मौजूद हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Add4

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More

Managed by Cotlas