गोपालगंज: बदमाशों ने साइकिल सवार युवक को गोली मार की हत्या

7,215

उचकागांव- मीरगंज थाने के मीरगंज- बालाहाता मुख्य मार्ग पर हरखौली पश्चिम टोला मलहनी खाड़ के समीप बदमाशों ने साइकिल सवार एक युवक को गोली मार कर हत्या कर दी। घटना को अंजाम देने के बाद बाइक सवार बदमाश फरार हो गए। मृत युवक सुनील सिंह है। जो उचकागांव थाने के बालाहाता गांव के रहने वाले स्व लक्ष्मी सिंह का पुत्र था। घटना की सूचना पर पहुंची मीरगंज पुलिस ने युवक के शव को अपने कब्जे में कर लिया। बाद में पोस्टमॉर्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया गया। पुलिस ने घटना स्थल से एक जिन्दा व एक खाली कारतूस बरामद किया है। बताया जा रहा है कि गुरूवार की सुबह करीब सवा नौ बजे साइकिल पर सवार सुनील सिंह अपने घर से मीरगंज के लिए निकला। वह साइकिल से मीरगंज शहर के करीब पहुंचने वाला ही था। इसी बीच हरखौली मलहनी खाड़ के समीप एक बाइक पर सवार दो बदमाश पीछे से पहुंच गए। इसके बाद उसे आगे से रोक लिया।

जब तक सुनील कुछ समझ पाता तब तक बाइक पर पीछे बैठा एक बदमाश ने देशी कट्टा से फायरिंग कर दी। गोली सुनील के कनपट्टी के उपर लग गई। जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। घटना को अंजाम देने के बाद बाइक सवार बदमाश पिपरा गांव होते हुए फरार हो गए। सड़क पर जा रहे राहगीरों ने घटना की सूचना ग्रामीणों को दी। उसके बाद मौके पर लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। बाद में सूचना पर मीरगंज पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए गोपालगंज भेज दिया। वहीं छानबीन के दौरान पुलिस ने घटना स्थल से एक जिन्दा व एक खाली कारतूस बरामद किया। थानाध्यक्ष मुकेश कुमार ने बताया कि हत्या के पीछे आपसी विवाद का मामला सामने आ रहा है। मामले की गहराई से छानबीन में पुलिस जुट गई है।

मां से सौ रूपए लेकर निकला था सुनील

बालाहाता गांव के लक्ष्मी सिंह का पुत्र सुनील सिंह मीरगंज शहर में एक कोचिंग में प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करता था। गुरूवार की सुबह वह घर से निकलते समय अपनी मां से सौ रुपये लिया था। पढ़ने में मेधावी सुनील प्रतिदिन मीरगंज कोचिंग में जाता था। गुरूवार की सुबह भी वह साइकिल से अपनी बैग लिए मीरगंज के लिए निकला था। लेकिन बीच रास्ते में उसकी हत्या कर दी गई। सुनील की हत्या से समूचे गांव में सनसनी फैल गई। हत्या की खबर सूनकर लोग मीरगंज की ओर दौड़ गए। इधर, हत्या की सूचना उसके परिजनों को लगी तो परिवार में कोहराम मच गया। परिवार के सदस्यों का रो-रोकर बूरा हाल हो गया। पत्नी सरोज देवी दहाड़ मारकर रोने लगी। वह रोते-रोते बेहोश हो जा रही थी। वहीं उसकी मां बिछावन पर बेसूध पड़ी थी। बेटे की मौत से वह पूरी तरह टूट चूकी थी। सुनील की पांच वर्षीय पुत्री खुश्बू जहां रो रही थी। वहीं तीन वर्षीय पुत्र कृष पिता की मौत से अनजान था। सुनील पांच भाईयों में सबसे छोटा था। छोटेलाल सिंह, राजकुमार सिंह, सुगन कुमार व रामदयाल सिंह छोटे भाई की मौत से सदमे में है।

बालाहाता बाजार से पीछा कर रहे थे बाइक सवार बदमाश

गुरूवार की सुबह जब सुनील अपने घर से मीरगंज के लिए निकला। उसके पूर्व उसके घर के आसपास की रेकी बदमाश कर चुके थे। प्रत्यक्ष दर्शियों की मानें तो बालाहाता बाजार में सुबह से ही एक बाइक पर सवार दो युवक कई राउन्ड चक्कर मार रहे थे। इसी बीच करीब पौन्ने नौ बजे वह बाजार से मीरगंज के लिए निकल गए। उसके कुछ ही देर बाद हत्या की खबर लोगों तक पहुंची। ऐसा माना जा रहा है कि बाइक सवार दो युवक ही हत्या की घटना को अंजाम दिए है। हांलाकि पुलिस इससे इनकार कर रही है।

घटना के बाद दहशतजदा हैं हरखौली के लोग

मीरगंज शहर से सटे हरखौली पश्चिम टोला में हत्या की घटना के बाद लोग दहशतजदा है। हरखौली के मलहनी खाड़ के समीप अचानक हुई फायरिंग के बाद लोग दहशत में आ गए। जब तक लोग कुछ समझ पाते तब तक पता चला कि एक युवक की हत्या कर दी गई। कुछ देर तक लोग घटना स्थल पर जाने से परहेज किए। लेकिन आसपास की भीड़ जुटने के बाद हरखौली के लोग पहुंचे।

रिपोर्ट:- विनेश कुमार
उचकागांव (गोपालगंज)

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Farbisganj
siwan
Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More