गोपालगंज: “बेटा अंगूठा दिखाई त का करबो तू , कवना मुंहवा से कहल ओकर ना करब तू “

कवि सम्मेलन में खूब ठहाके लगाए लोग, विद्यालय के वार्षिकोत्सव पर हुआ कार्यक्रम का आयोजन

0 150

पंचदेवरी- उक्त बातें कहीं आपको अटपटी सी तो नहीं लग रही है कि “बेटा अंगूठा देखाई त का करब तू ! जी हां जनाब! आज लगभग यही समस्या शत प्रतिशत अभिभावकों के पास है। जिसको प्रखंड के मचवां स्थित एक निजी विद्यालय द कृष्णा वैली के वार्षिकोत्सव में रविवार की शाम भोजपुरी के हास्य कवि नंदजी ‘नंदा’ ने कवि सम्मेलन में अपनी कविता के माध्यम से उजागर की।

कार्यक्रम की शुरुआत चंद्रशेखर शर्मा ‘परवाना’ ने सरस्वती वंदना के साथ की। उसके बाद देवरिया से आए मंच का संचालन कर रहे कवि बादशाह प्रेमी के द्वारा छोड़े गए हंस गोलों से विद्यालय प्रांगण में बैठे सारे लोग लोटपोट हो गए।

कार्यक्रम के मध्य में दर्शकों ने संतोष जी ‘संगम’ के मधुर स्वरों का भी आनंद लिया। और जैसे ही नन्दजी ‘नंदा’ की बारी आई , तो मानो कब्र से मुर्दे भी खड़े गए होंगे ठहाके लगाने के लिए।

क्रमानुसार लोगों ने एन.टी. ‘आस्क’, अवध किशोर ‘अवधू”, दुर्गेश ‘दुर्लभ’, वकील कुशवाहा आदि की कविताएं सुनी। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रुप में आए जिला परिषद अध्यक्ष मुकेश पाण्डेय व समस्त कलाकारों को विद्यालय के प्रबंधक इंजीनियर राजू कुमार यादव द्वारा अंग वस्त्र व सिल्ड देकर सम्मानित किया गया।

मौके पर कोईसा पंचायत के मुखिया राम सकल सिंह कुशवाहा, विनोद सिंह, रमेश मिश्र, कमलेश्वर पांडेय, सोनू यादव, अमरेश कुमार राम के साथ-साथ यूपी और बिहार के तमाम दर्शक मौजूद थे।

रिपोर्ट:- रंजीत कुमार मिश्र
पंचदेवरी (गोपालगंज)

गोपालगंज की इस खबर को भी पढ़े:

गोपालगंज: 26 बटुकों का हुआ सामूहिक यज्ञोपवीत संस्कार

गोपालगंज: होली में डीजे बजाने वाले जाएंगे जेल, डीजे भी होगा जप्त

गोपालगंज: 528 बोतल अंग्रेजी शराब के साथ एक धंधेबाज को पुलिस ने किया गिरफ्तार, दो बाइक जप्त

लोकसभा चुनाव में मुर्दे भी फैला सकते हैं उन्माद, प्रशासन ने की पांच लाख के बॉन्ड भरने की नोटिश

आग ने बरपाया कहर, सत्तर हजार नगदी समेत करीब दो लाख की सम्पत्ति जलकर राख

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More