सिवान:सलोनी सिंह ने नीट की परीक्षा में सफलता प्राप्त कर जिले का नाम किया रौशन

0 60

सिवान:पहले से ही परिवार में दो भाई आईआईटीयन और एक बहन है डॉक्टर महाराजगंज। अनुमंडल शहर के सटे गांव जगदीशपुर निवासी शंम्भूनाथ सिहं कि पुत्री सलोनी सिंह बचपन से ही मेधावी छात्रा रहीं हैं। उन्होंने प्राथमिक शिक्षा महाराजगंज सेंट्रल स्कूल से करने के दौरान ही जवाहर नवोदय विद्यालय प्रवेश परीक्षा पास किया, साथ ही साथ मैट्रिक में 82 प्रतिशत तथा आईएससी में 83 प्रतिशत अंक प्राप्त किया,। फिर एक वर्ष ऐलेन कोचिंग सेंटर में तैयारी के पश्चात, उन्होंने नीट प्रवेश परीक्षा में ऑल इंडिया कैटोगरी रैंक 1215 तथा 720 में 620 अंक के साथ सफलता प्राप्त किया।

बेगूसराय: पुलिस ने 72 बोतल विदेशी शराब के साथ दो युवकों को किया गिरफ्तार, एक पल्सर बाइक भी किया जब्त 

बेगूसराय:बाइक से गिरा युवक गंभीर रुप से जख्मी

‘प्रण हमारा संकल्प बदलाव का’— तेजस्वी

राजद का घोषणापत्र पत्र में शिक्षकों के मुद्दों को शामिल करना माध्यमिक शिक्षक संघ के संघर्षों का परिणाम:केदारनाथ पाण्डेय

सिवान:कोढवालिया में बंद घर से चोरो ने उड़ाई लाखों की संपत्ति

अब सलोनी सिहं बिहार के टॉप मेडिकल कॉलेज में प्रवेश लेने की तैयारी में हैं, तथा आगे चल कर, वह ग्रामीण छात्रों का प्रतिनिधित्व करते हुए चिकित्सा क्षेत्र में अपना अहम योगदान देना चाहती हैं। सलोनी सिंह अपनी इस सफलता का श्रेय अपने दादा स्वर्गीय श्री राम बहाल सिंह व दादी मोतीझरी देबी को देते हुए वो बताती हैं कि उनके अध्ययन के दौरान बहन डॉक्टर रजनीगंधा, भाई बीएड निखिल, आई.आई.टी.यन. नवेन्दु, आई.आई.टी.यन नागमणि, उद्यमिता -बीबीए में अध्ययनरत आलोक एवं अभिषेक से लगातार प्रोत्साहन एवं सहयोग मिला। इसी खुशी के वातावरण पर, परिवार में पिता शम्भुनाथ सिंह, चाचा ब्रज भूषण सिंह, बड़े पापा सुरेंद्र सिंह,फूफा शम्भू सिंह, दिलीप भैया, बड़ी माँ, माता अनिता देबी, चाची किरण सिह ,फुआ रामावती देबी, अधिवक्ता चाचा मनिष कुमार ने उज्जवल भविष्य कि कामना किया भाई नीलेश, अनुराग तथा अन्य शुभचिंतक खुशी से फुले नहीं समा रहे हैं।

नीट मेडिकल एंट्रेंस परीक्षा में दीपशिखा ने लहराया परचम भगवानपुर हाट। जिले के भगवानपुर हाट प्रखंड के महमदा गावं के वीरेंद्र सिंह व पूनम देवी की बिटिया दीपशिखा सिंह ने अपने जिले और राज्य का मन बढ़ाया हैअखिल भारतीय स्तर पर आयोजित नीट परीक्षा 2020 में सफलता प्राप्त की है।मेडिकल इंट्रेंस हेतु हुए इस परीक्षा में दीपशिखा ने पूरे भारत मे 6634 वां रैंक हासिल किया है। अखिल भारतीय स्तर पर उसका ई डब्लू एस रैंक 600 है।

उसने प्राप्तांक अंक 720 में 637 अंक हासिल किया है।दीपशिखा के पिता बी एस एन एल में कर्मचारी है।उसकी प्राम्भिक शिक्षा गावं में हुई है। दीपशिखा की सफलता पर पूरे गावं में खुशी की लहर है।पिता और माँ का कहना है कि उसे अपनी बेटी पर नाज है।दीपशिखा ने कहा कि वह एक डॉक्टर बनकर देश की सेवा करेगी।ग्रामीण स्तर पर ही सेवा देने उसकी प्राथमिकता होगी क्योंकि ग्रामीण स्तर पर चिकित्सा की स्थिति से वह काफी दुःखी होती है और इसी प्रेरणा से उसने इस क्षेत्र में जाने का फ़ैसला किया है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

संगम बाबा
Comments
Loading...

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More