Bihar News Live
News, Politics, Crime, Read latest news from Bihar

 

हमने पुरानी ख़बरों को archive पे डाल दिया है, पुरानी ख़बरों को पढ़ने के लिए archive.biharnewslive.com पर जाएँ।

सिवान: विधायक की मां को श्रद्धांजलि देने पहुंचे बिहार विधानसभा स्पीकर

255

 

 

बिहार न्यूज़ लाइव सिवान डेस्क : नौतन। प्रखंड क्षेत्र के खलवाॅं स्थित जीरादेई विधायक अमरजीत कुशवाहा के पैतृक गांव में विधायक की मां को श्रद्धांजलि देने के लिए बिहार विधानसभा के स्पीकर रविवार की देर शाम पहुंचे। इनके अलावा विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं ने भी श्रद्धांजलि सभा में पहुंचकर पुष्पांजलि अर्पित करते हुए दिवंगत आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना किया।

 

बता दें कि विधायक की मां राजपति देवी का निधन 18जनवरी को रात्रि में खलवॉं स्थित उनके पैतृक आवास पर हो गया। उनका अंतिम संस्कार 20 जनवरी को झरही नदी स्थित श्मशान घाट पर किया गया, जिसमें सभी राजनीतिक दलों के नेताओं ने शिरकत की थी। वहीं 5फरवरी दिन रविवार को उनका ब्रह्मभोज एवं श्रद्धांजलि सभा का आयोजन उनके पैतृक गांव में ही किया गया, जिसमें पहुंचकर विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं ने श्रद्धांजलि दी।

 

इनमें जिला परिषद अध्यक्ष संगीता देवी, पूर्व विधायक अमरनाथ यादव, पूर्व मंत्री इंद्रदेव भगत, हंसनाथ राम, माले नेत्री श्रीमती सोहिला गुप्ता, नईमुद्दीन अंसारी, माले प्रखंड सचिव शिवजी साहनी, खलवॉं मुखिया अमित कुमार सिंह ‘पिंटू’, राजद नेता हरेंद्र सिंह पटेल, मदन यादव, विनोद कुमार सिंह, माया देवी, कन्हैया सहनी, जवाहर कुशवाहा सहित हजारों की संख्या में महागठबंधन के घटक दलों के नेता शामिल हैं, जिन्होंने पुष्पांजलि अर्पित करते हुए दिवंगत आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना किया। इस दौरान विधानसभा स्पीकर अवध बिहारी चौधरी ने कहा कि मृत्यु जीवन का अकाट्य सत्य है, जिसे ठुकराया नहीं जा सकता।

 

लेकिन एक माॅं का दुनिया से जाना, उसकी संतान के लिए सबसे दु:खद अनुभव होता है, जिसे शब्दों में बयां नहीं किया जा सकता। विधायक अमरजीत कुशवाहा की मां उनके लिए एक मार्गदर्शक और हौसला देने वाली रहीं हैं। उनका जाना एक बार को उन्हें विचलित कर सकता है। लेकिन जीवन के सच को स्वीकार कर जीवन में आगे बढ़ते रहना ही वीर पुरुष का परम कर्तव्य है। हमारी संवेदना उनके साथ है।

 

 

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More