Bihar News Live
News, Politics, Crime, Read latest news from Bihar

 

हमने पुरानी ख़बरों को archive पे डाल दिया है, पुरानी ख़बरों को पढ़ने के लिए archive.biharnewslive.com पर जाएँ।

मधेपुरा: में ट्रिपल मर्डर मामले में 2 सुपारी किलर समेत 9 गिरफ्तार,कोसी रेंज डीआईजी शिवदीप लांडे ने किया मामले का बड़ा खुलासा, 10 बिग्ग्घा जमीन को लेकर हुई तीन लोगों की हत्या,हत्या में सामिल गिरफ्तार सूटर के पास से दो देशी कट्टा और 5 जिंदा कारतूस बरामद.

699

 

 

: ट्रिपल मर्डर मामले में 24 लोगों को बनाया गया नामजद अभियुक्त,मृतक के दामाद भी थे हत्या में सामिल :

:एसपी ने कहा बहुत जल्द स्पीडी ट्रायल के माध्यम से सभी आरोपी को दिलवाई जाएगी सजा:

बिहार न्यूज़ लाइव मधेपुरा डेस्क: मधेपुरा में ट्रिपल मर्डर कांड में हुआ बड़ा खुलासा, जमीन विवाद में बड़े भाई ने ही छोटे भाई को रास्ते से हटाने की रची थी साजिश, घटना में प्रयुक्त हथियार बरामद,दो सुटर एक महिला समेत 9 गिरफ्तार।

 

दरअसल मधेपुरा सदर थाना क्षेत्र के सकरपुरा गांव में बीते 18 दिसंबर को हुए ट्रिपल मर्डर की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है और इस चर्चित हत्याकांड में शामिल 2 सुटर व एक महिला समेत 9 लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, वही इस घटना में प्रयुक्त हथियार भी पुलिस ने बरामद कर लिया है। घटना के पीछे मृतक सूर्यनारायण साह का उनके बड़े भाई रामनारायण साह से चल रहा जमीन विवाद था। इस बाबत आज मधेपुरा एसपी कार्यालय में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में कोसी प्रक्षेत्र के डीआईजी शिवदीप वामनराव लांडे के समक्ष एसपी राजेश कुमार ने बताया कि इस घटना को पुलिस ने चुनौती के रूप में लिया है। घटना की संवेदनशीलता को देखते हुए मधेपुरा पुलिस के नेतृत्व में इस कांड के उद्भेदन एवं घटना में संलिप्त अपराधकर्मियो की गिरफ्तारी हेतु तीन टीमों का गठन किया गया।

 

जिसमें प्रथम टीम में अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी, मधेपुरा के साथ थानाध्यक्ष, भर्राही, पु०अ०नि० मुकेश कुमार, पु०नि०-सह थानाध्यक्ष, मधेपुरा, राजकिशार मंडल एवं थाना के सशस्त्र बल को रखा गया। इस टीम का काम घटना के संबंध में आसूचना सकलन कर घटना एवं इसमें संलिप्त अपराधकर्मियों का पता कर गिरफ्तार करना था। दूसरा टीम में तकनिकी सेल के पदाधिकारी पु०नि० सतेन्द्र मिश्रा एवं सिपाही धीरेन्द्र कुमार, प्रभात कुमार एवं अखिलेश कुमार को रखा गया, इसका कार्य तकनीकी आधार पर संलिप्त अपराधकर्मियों का ठिकानों का पता कर सहयोग करना था। तीसरे टीम में पुलिस उपाधीक्षक, परीक्ष्यमान आलोक कुमार के नेतृत्व में गठन किया गया।

 

इनको एफएसएल टीम एवं डॉग स्क्वॉयड के साथ समन्वय बनाकर घटनास्थल पर वैज्ञानिक साक्ष्यों का संग्रहण करना था। तीनों टीमों ने संयुक्त रूप से 60 घंटो तक दिन-रात मेहनत कर घटना का सफलतापूर्वक उद्‌भेदन कर लिया तथा इस घटना में संलिप्त 9 अभियुक्तों की गिरफ्तारी की गयी। गिरफ्तार अपराधियों में अमरेंद्र साह, रामनारायण साह, निरंजन साह, अभिषेक कुमार, बबलू साह, अमरजीत कुमार, चंदन देवी, विनोद कुमार और नीरज कुमार शामिल हैं।

 

पुलिस ने इनके पास से घटना में प्रयुक्त दो देसी कट्टा,पाँच जिंदा कारतूस और पाँच मोबाईल भी बरामद किये हैं। वहीं इस मामले को लेकर एसपी राजेश कुमार ने बताया कि इस घटना में संलिप्त अपराधकर्मी अमरेन्द्र साह (सुपारी किलर) तथा निरंजन साह पेशेवर अपराधकर्मी हैं इनके विरूद्ध पुर्व से ही अन्य थानों में कई जघन्य अपराधिक मामले दर्ज हैं। गिरफ्तार अन्य का भी आपराधिक इतिहास खंगाला जा रहा है।

 

 

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More