Bihar News Live
News, Politics, Crime, Read latest news from Bihar

 

हमने पुरानी ख़बरों को archive पे डाल दिया है, पुरानी ख़बरों को पढ़ने के लिए archive.biharnewslive.com पर जाएँ।

भागलपुर: डीएम ने इंटर स्तरीय उच्च पनचानन झा उच्च विद्यालय एवं लोक नाथ उच्च माध्यमिक विद्यालय, के प्रांगण में शिक्षा संवाद का किया गया आयोजन ।

353

 

 

भागलपुर,बिहार न्यूज़ लाईव। सोमवार को पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार जिलाधिकारी सुब्रत कुमार सेन की अध्यक्षता में इंटर स्तरीय उच्च पनचानन झा उच्च विद्यालय, बैजानी एवं लोक नाथ उच्च माध्यमिक विद्यालय, जगदीशपुर के प्रांगण में शिक्षा संवाद का आयोजन किया गया। उक्त अवसर पर जिलाधिकारी ने शिक्षा संवाद आयोजन के उद्देश्य के संबंध में जानकारी देते हुए बताया कि शिक्षा विभाग सहित अन्य विभागों द्वारा विद्यार्थी हितकारी योजनाओं के संबंध में विद्यार्थी,अभिभावक को अवगत कराना शिक्षा संवाद आयोजन का मुख्य उद्देश्य है, ताकि वे संचालित योजनाओं से अवगत हो एवं योजनाओं से लाभान्वित हों। जिलाधिकारी ने कहा कि लगनशील विद्यार्थियों को निर्बाध शिक्षा सुनिश्चित करने के उद्देश्य से संचालित योजनाओं के अन्तर्गत आर्थिक सहायता का प्रावधान है।

 

मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना अंतर्गत बालिकाओं को जन्म से लेकर स्नातक उत्तीर्ण होने तक निश्चित आर्थिक सहायता का प्रावधान है। विकसित बिहार के सात निश्चय अन्तर्गत संचालित ‘‘आर्थिक हल, युवाओं को बल’’ के तहत उच्च शिक्षा हेतु आर्थिक सहायता का प्रावधान है। इसके अतिरिक्त अन्य क्रियान्वित योजनाएं यथा- पोशाक योजना,साइकिल योजना ने भी शिक्षा ग्रहण के प्रति रुचि में वृद्धि की है। प्रतियोगिता परीक्षा यथा- सिविल सेवा में प्रारंभिक परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले अत्यंत पिछड़ा वर्ग से संबंधित प्रतियोगी को आगे की तैयारी हेतु आर्थिक सहायता दी जाती है,उक्त वर्णित श्रेणी के अभ्यर्थियों मुख्यमंत्री सिविल सेवा प्रोत्साहन योजना अंतर्गत राज्य बीपीएससी एवम यूपीएससी की प्रारंभिक परीक्षा उत्तीर्ण होने पर आगे की तैयारी हेतु क्रमशः पचास हजार एवं एक लाख रुपए दिए जाने का प्रावधान है। उन्होंने कहा की शिक्षा के अतिरिक्त अन्य क्षेत्रों यथा-स्वरोजगार, खेल के क्षेत्र में भी रुचि रखने वाले व्यक्तियों को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से योजनाएं संचालित है। स्वरोजगार क्षेत्र में रूचि रखने वाले युवाओं हेतु मुख्यमंत्री उद्यमी योजना संचालित है। जिसके अन्तर्गत 10 लाख रूपये (05 लाख अनुदान एवं 05 लाख ऋण) का प्रावधान है। जिलाधिकारी ने बताया कि उक्त वर्णित योजना से लाभान्वित होकर जिला अन्तर्गत नारायणपुर निवासी अजय रविदास ने उद्यम के क्षेत्र में उल्लेखनीय सफलता प्राप्त की है। विगत तीन से चार वर्षों में उनका टर्न ओवर लगभग 75 लाख रूपये है। जो निःसन्देह स्वरोजगार के क्षेत्र में रुचि रखने वाले युवाओं के लिए प्रोरणा का स्त्रोत है।जिलाधिकारी ने कहा की विद्यालय प्रबंधन में सुधार हेतु किए जा रहें निरंतर प्रयास के फलस्वरूप नामांकन के विरुद्ध उपस्थिति में उत्साहजनक बढ़ोतरी हुई है। शिक्षा विभाग विद्यालय के समेकित प्रबंधन में निरंतर सुधार हेतु सतत प्रयासरत है। जानकारी दी गई कि 720 आवासन क्षमता का अनुसूचित जनजाति शिक्षा आवासीय बालक एवं बालिका उच्च विद्यालय खवासपुर, पीरपैंती में निर्माण कार्य पूर्ण हो चूका है। नामांकन प्रक्रिया शीघ्र प्रारंभ होने की संभावना है।

 

अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति कल्याण विभाग बिहार, पटना द्वारा भागलपुर जिला में 480 क्षमता के एक अनुसूचित जाति आवासीय विद्यालय बाबा साहेब डॉ0 भीमराव अम्बेदकर आवासीय +2 उच्च विद्यालय, कम्पनी बाग भागलपुर में संचालित है।भूमिहीन एवं भवनहीन विद्यालयों के लिए भूमि चिन्हित कर विद्यालय भवन निर्माण हेतु किए जा रहे प्रयास क्रम में 04 स्थलो पर विद्यालय भवन का निर्माण कार्य प्रगति पर है,जबकि 16 स्थलो पर विद्यालय भवन निर्माण हेतु टेंडर प्रक्रियाधीन है।अब तक कुल 39 विद्यालयो में भवन हेतु भूमि चिन्हित कर ली गई है। जानकारी दी गई की बढ़ती छात्र उपस्थिति को ध्यान में रखते हुए 122 स्कूलों में क्रियान्वित प्रीफैब संरचना का निर्माण कार्य में से 100 से अधिक विद्यालय में प्री फैब संरचना का निर्माण कार्य पूर्ण कर लिया गया है एवम शेष में कार्य प्रगति पर है।

 

प्रति प्रीफैब संरचना में सत्तर छात्र के बैठने की व्यवस्था होगी। विद्यालय में बेंच डेस्क क्रय हेतु समेकित रूप से आठ करोड़ की राशि उपलब्ध कराई गई है,जिसके अंतर्गत विद्यालय में 100 जोड़ी बेंच डेस्क का क्रय किया जाना है। जिलांतर्गत 160 विद्यालय में कंप्यूटर शिक्षा की व्यवस्था की गई। जिलाधिकारी ने कहा की सरकार मेहनती,सकारात्मक सोच एवम समर्पित युवा को नियमानुसार सहायता हेतु निरंतर प्रयत्नशील है। उन्होने कहा कि अभिभावक शिक्षा संवाद से योजना संबंधी प्राप्त जानकारी को अपने बच्चों से साझा करें, ताकि वे संचालित योजनाओं से लाभान्वित हो सकें।

 

जिलाधिकारी ने युवाओं को क्षमतानुसार चयनित क्षेत्र में पूर्ण समर्पण से परिश्रम करने की सलाह दी। शिक्षा संवाद के दौरान जानकारी दी गई की तकनीकि क्षेत्र में रुचि रखने वाले विद्यार्थियों हेतु औधोगिक प्रशिक्षण संस्थान, राजकीय पोलिटेकनिक संस्थान, अभियंत्रण महाविद्यालय, पारा मेडिकल, ए.एन.एम., जी.एन.एम. कोर्स उपलब्ध है। उक्त वर्णित संस्थानों में नामांकन हेतु प्रतियोगिता परीक्षा का प्रावधान है।

 

जिसमें सफल होकर विद्यार्थी उज्जवल भविष्य का निर्माण कर सकते हैं। उक्त अवसर पर उप विकास आयुक्त ने कहा कि शिक्षा संवाद आयोजन का उद्देश्य शिक्षा विभाग एवं अन्य विभागों द्वारा संचालित योजनाओं के संबंध में अभिभावक को अवगत कराना है,ताकि वे अपने बच्चों को संचालित योजनाओं के संबंध में मार्गदर्शन कर सकें। उक्त अवसर पर जिला शिक्षा पदाधिकारी, वरीय उप समाहर्त्ता सह सामान्य शाखा प्रभारी उपस्थित थे।

 

 

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More