Bihar News Live
News, Politics, Crime, Read latest news from Bihar

 

हमने पुरानी ख़बरों को archive पे डाल दिया है, पुरानी ख़बरों को पढ़ने के लिए archive.biharnewslive.com पर जाएँ।

प्रयागराज में पुलिस कस्टडी में माफिया डॉन अतीक अहमद एवं अशरफ की हत्या,प्रयागराज में हाई अलर्ट घोषित, संवेदनशील इलाकों में पुलिसबल तैनात

2,547

प्रयागराज: पुलिस कस्टडी में माफिया डॉन अतीक अहमद एवं अशरफ की हत्या कर दी गयी है । प्रयागराज में हाई अलर्ट घोषित हो चूका है। संवेदनशील इलाकों में पुलिसबल तैनात कर दिए गए है। उसके भाई अशरफ को भी गोली मार दिया गया है। कॉल्विन हस्पताल ले जाए जाने के दौरान यह घटना घटी। दावा किया जा रहा है कि दो से तीन हमलावर आए। उन्होंने माफिया बंधुओं के पास पहुंचकर गोली चलाई। इस गोलीबारी की घटना में दोनों भाई गोलियों का शिकार हो गए। पुलिस ने हमला करने वाले दो लोगों को पकड़ लिया है।दोनों हमलावर मीडिया कर्मी बनकर आए थे। धूमनगंज थाना क्षेत्र में इस घटना को अंजाम दिया गया। इस घटना ने यूपी की राजनीति में सनसनी मचा दी है। दिन में प्रयागराज असद अहमद के एनकाउंटर के बाद उसके जनाजे को लेकर तनाव के माहौल में था। अब अतीक और अशरफ की हत्या ने माहौल को और तनावपूर्ण बना दिया है। इस घटना की सूचना मिलते ही प्रयागराज के तमाम सीनियर पुलिसकर्मी घटनास्थल पर पहुंच गए हैं। माफिया डॉन को पिछले दिनों साबरमती जेल से प्रयागराज लाया गया था। वहीं, अशरफ को बरेली जेल से लाया गया था ।

https://fb.watch/jWHN0EWgYK/?mibextid=RUbZ1f

उत्तरप्रदेश पुलिस के द्वारा अतीक और अशरफ पर हमले और उसके आदमी द्वारा छुड़ाने की बात कही जा रही थी। हालांकि, उमेश पाल हत्याकांड के बाद पुलिस लगातार एक्शन में थी। इस हत्याकांड मामले में दोनों भाइयों पर साजिश रचने का आरोप लगा था। फेसटाइम और वॉट्सएप के जरिए हत्या की प्लानिंग रचे जाने की बात सामने आई। हालांकि, रिमांड के दौरान अतीक और अशरफ लगातार कह रहा था कि पुलिस कस्टडी में दिए गए बयानों को कोर्ट में साबित नहीं किया जा सकेगा। ऐसे में पुलिस पुख्ता प्रमाण जुटाने के लिए लगातार विभिन्न ठिकानों पर ले जाकर छापेमारी कर रही थी। दोनों की पुलिस रिमांड अवधि रविवार को खत्म होने वाली थी। सोमवार को दोनों को कोर्ट में पेश किया जाना था। हालांकि, इसी बीच ये बड़ी घटना घट गई।फोरेंसिक टीम की जांच में पता चल रहा है कि 20 राउंड गोलियां चलाई गईं और जो पुलिसकर्मी अतीक और अशरफ के साथ थे इस हमले में उनमें से एक पुलिसकर्मी भी घायल हो गया है |

 

 

अतीक और अशरफ को मीडिया के सामने गोली मारी गई। पुलिस और मीडिया की मौजूदगी में खुलेआम तीन हमलावरों ने अतीक और अशरफ को कैमरे पर मीडिया को बयान देते समय गोली मारकर हत्या कर दी गई। ठीक उसी वक्त ताबड़तोड़ फायरिंग की गई। तीन हमलावरों ने अतीक, अशरफ को गोली मारी उसके बाद पुलिस ने घटनास्थल से पिस्टल बरामद की।
तीनों हमलावरों ने वीडियो ने देखने से पता चला की गोली बिल्कुल करीब से मारकर हमलावरों ने सरेंडर किया है। यह घटना प्रयागराज के कॉल्विन अस्पताल के पास घटी है। फायरिंग में एक पुलिस कर्मी भी घायल हुआ है। लाइव हत्या का सबसे खौफनाक वीडियो सामने आया है। देश ने ऐसा लाइव डबल मर्डर पहले नहीं देखा होगा।मुख्यमंत्री ने डीजी लॉ एंड ऑर्डर को तलब किया है। स्पेशल डीजी प्रशांत कुमार सीएम आवास पर तलब किए गए है।

 

सीएम के साथ बैठक के बाद डीजीपी को निर्देश दिया गया है भी सचिव और डीजीपी प्रयागराज जा रहे हैं |उन्हें विशेष विमान से प्रयागराज भेजा जा रहा है | अतीक अहमद और अशरफ के सुरक्षा में लगाए गए 17 पुलिसकर्मी को सीएम योगी ने सस्पेंड कर दिया है |पूरे उत्तर प्रदेश में हाई अलर्ट घोषित सभी जिलों में पुलिस को अलर्ट किया गया यूपी के सभी जिलों में धारा 144 लागू हो चुका है|

 


दो दिन पहले माफिया अतीक अहमद के बेटे और उमेश पाल हत्याकांड में शूटर असद का एनकाउंटर कर दिया गया है। इसके साथ ही शूटर मोहम्मद गुलाम भी मारा गया। झांसी में यूपी एसटीएफ ने अतीक अहमद के बेटे असद अहमद (Asad Ahmed Encounter) का इनकाउंटर किया है। यूपी एसटीएफ के साथ मुठभेड़ में मौत हो गई। असद उमेश पाल हत्याकांड में कई दिनों से फरार चल रहा था। उसके साथ एक अन्य कुख्यात अपराधी गुलाम भी मुठभेड़ में मारा गया है। कोर्ट में पेशी के दौरान माफिया अतीक अहमद ने अपने बेटे असद की एनकाउंटर की बात को सुनकर कोर्ट परिसर में ही रोने लगा  बेहोश हो गया।

यूपी एसटीएफ की तरफ से यह जानकारी देते हुए बताया गया कि अतीक अहमद का बेटा असद और मकसूदन का बेटा गुलाम प्रयागराज के उमेश पाल हत्याकांड में वॉन्टेड थे, दोनों पर पांच-पांच लाख रुपये का इनाम था. पुलिस उनकी तलाश में जुटी थी. इस दौरान झांसी में डीएसपी नवेंदु और डीएसपी विमल के नेतृत्व में UPSTF टीम के साथ हुई मुठभेड़ में दोनों की मौत हो गई. उनके पास से विदेश में बने अत्याधुनिक हथियार बरामद किए गए हैं।

वहीं यूपी एसटीएफ के एडीजी अमिताभ यश ने मीडिया से बातचीत में कहा कि असद और गुलाम को जिंदा पकड़ने की कोशिश की गई थी, लेकिन उन्होंने STF की टीम पर फायरिंग कर दी, जिसके बाद जवाबी कार्रवाई में वे दोनों मारे गए।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More