Bihar News Live
News, Politics, Crime, Read latest news from Bihar

 

हमने पुरानी ख़बरों को archive पे डाल दिया है, पुरानी ख़बरों को पढ़ने के लिए archive.biharnewslive.com पर जाएँ।

भागलपुर: राज्य कृषि यांत्रिकरण योजना अंतर्गत द्वितीय दो दिवसीय जिलास्तरीय कृषि यांत्रिकरण मेला।

248

 

 

भागलपुर,बिहार न्यूज़ लाईव। मंगलवार को राज्य कृषि यांत्रिकरण योजनान्तर्गत दो दिवसीय कृषि यांत्रिकरण मेला का उद्घाटन डीएम डा० नवल किशोर चौधरी, द्वारा दीप प्रज्जवलित कर किया गया। जिलाधिकारी द्वारा बताया गया कि इस वित्तीय वर्ष 2023-24 में कृषि यांत्रिकरण योजना को पारदर्शी बनाने हेतु पहले आओ पहले पाओं के नियम को समाप्त कर अब लॉटरी के माध्यम से लाभुकों का चयन प्रक्रिया शुरू किया गया है।

 

अनुदानित दर पर कृषि यंत्र क्रय करने हेतु किसानों द्वारा ऑनलाईन आवेदन पोटल किया जाता है एवं लॉटरी की प्रक्रिया के माध्यम से ऑनलाईन किया जाता है।बीते 16 जनवरी को द्वितीय लॉटरी के माध्यम से स्वीकृति पत्र देने हेतु लाभुकों का चयन किया गया। इस योजना के तहत् विभिन्न कृषि यंत्रों के लिए कोटिवार 3765 फाईनलाईज्ड आवेदन प्राप्त हुए थे, जिसमें प्रथम लॉटरी में 716 आवेदको एवं द्वितीय लॉटरी में 553 आवेदको का ऑनलाईन लॉटरी प्रक्रिया द्वारा स्वीकृति पत्र निर्गत किया गया। कृषि यांत्रिकरण योजनान्तर्गत सामान्य जाति के 1027, अत्यंत पिछड़ा वर्ग के 162, अनुसूचित जाति के 73, अनुसूचित जनजाति के 7. इस वित्तीय वर्ष में कुल 1269 कृषकों को अनुदान पर कृषि यंत्र क्रय करने हेतु स्वीकृति पत्र निर्गत किया गया। द्वितीय लॉटरी में निर्गत स्वीकृति स्वी पत्र पर यंत्र क्रय करने की समय सीमा 05 फरवरी 2024 है।

 

द्वितीय लॉटरी में कुल 1,05,80,900/- (एक करोड़ पाँच लाख अस्सी हजार नौ सौ) रूपये राशि पर 553 स्वीकृति पत्र निर्गत किया गया, समय सीमा के अन्दर यंत्र क्रय नहीं करने पर उनका स्वीकृति पत्र स्वतः रद्द हो जाएगा।खेती एवं मजदूरी को सहज बनाने हेतु कृषि यांत्रिकरण का महत्व बहुमूल्य है। इसके तहत् परमपरागत खेती में छोटे उपकरणों का उपयोग किया जाता रहा है। वर्तमान में नवीनतम उपकरणों जैसे फसल अवशेष प्रबंधन के यंत्रों-रीपर कम बाईन्डर, सेल्फ प्रोपेल्ड रीपर, रोटरी मल्चर इत्यादि के उपयोग से पराली जलाने की समस्याँ को कम किया जा सकता है, जो किसानों के लिए बहुत उपयोगी है। जिलाधिकारी द्वारा कृषि विभाग में चल रही अन्य योजनाओं की भी संक्षिप्त जानकारी दी गई। जिलाधिकारी महोदय द्वारा 01 (एक) कृषक समूह एग्रो प्वाइंट फार्मर प्रोड्यूसर संगठन, पीरपैंती प्रखंड को कृषि यंत्र बैंक एवं प्रगतिशील कृषक दिलीप कुमार झा, सुलतानगंज प्रखंड को कस्टम हायरिंग सेन्टर के तहत् ट्रैक्टर क्रय करने हेतु चाभी, नीभा कुमारी एवं अनिल यादव को रीपर कम बाईन्डर 3 व्हील की चाभी एवं बिनोद कुमार को रीपर कम बाईन्डर 4 व्हील की चाभी प्रदान की गई। मेला के प्रथम दिन 19 किसानों द्वारा कुल 7,84,000/- रूपये अनुदान राशि के यंत्रों की खरीदारी की गई।

संयुक्त निदेशक (शष्य), भागलपुर प्रमंडल, भागलपुर एवं जिला कृषि पदाधिकारी, भागलपुर द्वारा बताया गया कि जिला में प्राप्त 73 यंत्रों के लक्ष्य के विरूद्ध कुल 48 प्रकार के कृषि यंत्र मुख्यतः सिंचाई हेतु पम्पसेट,छिड़काव हेतु पावर स्प्रेयर, जुताई के लिए रोटावेटर, कल्टीवेटर, डिस्क हैरो, बुआई के लिए जीरोटिलेज सीड ड्रील, फसल की कटाई के लिए रीपर, रीपर-कम-बाईन्डर, ब्रश कटर, थ्रेशर, चैफकटर, पोस्ट हार्वेस्ट के लिए राईस मिल, फ्लोर मिल, लघु एवं सीमांत किसानों के लिए मैनुअल कीट (कुदाल, हसिया, खुरपी, मेज सेलर एवं मैनुअल वीडर), धातुकोठिला इत्यादि यंत्रों का क्रय किसान जिला में पंजीकृत विक्रेता द्वारा अनुदान राशि काटकर शेष राशि ऑनलाईन माध्यम से भुगतान कर क्रय कर सकते है।

 

लाभुकों के चयन हेतु सारी प्रक्रिया मुख्यालय द्वारा की जा रही है। इसलिए किसी प्रकार की गड़बड़ी की समस्या नहीं है। साथ ही बताया गया कि समय सीमा के अन्दर यंत्र क्रय नहीं करने पर उनका स्वीकृति पत्र स्वतः रद्द हो जाएगा। कृषि विभाग द्वारा कृषि यांत्रिकरण योजनान्तर्गत 08 फरवरी 2024 से 11 फरवरी 2024 तक एग्रो बिहार मेला का आयोजन गाँधी मैदान, पटना में किया जा रहा है, जिसमें सभी जिलों से कृषक भाग ले सकते है।

उक्त मेला में संयुक्त निदेशक (शष्य), भागलपुर अनिल कुमार यादव, जिला कृषि पदाधिकारी , सहायक निदेशक (कृषि अभियंत्रण) , सहायक निदेशक, उद्यान , सहायक निदेशक, पौधा संरक्षण ,सहायक निदेशक (शष्य), प्रक्षेत्र , सभी अनुमंडल कृषि पदाधिकारी ,सभी प्रखंड कृषि पदाधिकारी एवं अन्य संबंधित पदाधिकारी उपस्थित थे।

 

 

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More