Bihar News Live
News, Politics, Crime, Read latest news from Bihar

 

हमने पुरानी ख़बरों को archive पे डाल दिया है, पुरानी ख़बरों को पढ़ने के लिए archive.biharnewslive.com पर जाएँ।

पटना: UPSC परीक्षा परिणाम में फिर लहराया NACS के मार्गदर्शन का परचम।* *बिहार-झारखंड के अधिकारियों के संगठन NACS से 30 से अधिक अभ्यर्थी हुए UPSC सिविल सेवा परीक्षा में सफल।

644

 

*UPSC परीक्षा परिणाम में फिर लहराया NACS के मार्गदर्शन का परचम।* *बिहार-झारखंड के अधिकारियों के संगठन NACS से 30 से अधिक अभ्यर्थी हुए UPSC सिविल सेवा परीक्षा में सफल।*

*रैंक 2 गरिमा लोहिया कुमार, रैंक 10 राहुल श्रीवास्तव एवं रैंक 24 संदीप कुमार भी NACS के सफल अभ्यर्थियों में।*

बिहार न्यूज़ लाइव पटना डेस्क: ।UPSC द्वारा घोषित सिविल सेवा परीक्षा में हर साल की तरह इस साल भी NACS से मार्गदर्शन प्राप्त अभ्यर्थियों ने रिकॉर्ड तोड़ प्रदर्शन किया है। इस परीक्षा के साक्षात्कार हेतु NACS के द्वारा इंटरव्यू गाइडेंस प्रोग्राम यानी IGP आयोजित किया गया था जिसमे कुल 60 अभ्यर्थियों ने भाग लिया था। साक्षात्कार की तैयारी IAS IPS IRS IRTS जैसे सिविल सेवकों द्वारा कराई गई थी। यह साक्षात्कार दिल्ली में बिहार निवास के साथ-साथ ऑनलाइन भी आयोजित किया गया था जिसमे 30 से भी ज्यादा अभ्यर्थी अंतिम रूप से सफल घोषित किये गए है।

इस साल घोषित सिविल सेवा परीक्षा में NACS संस्थान से दूसरी रैंक गरिमा लोहिया, 10वी रैंक राहुल श्रीवास्तव एवं 24वी रैंक संदीप कुमार सहित कुल 30 से ज्यादा अभ्यर्थी सफल हुए है।

उल्लेखनीय है कि 2014 में सिविल सेवा के महज 8 अधिकारियों द्वारा श्री बी के प्रसाद IAS के मार्गदर्शन में स्थापित इस संगठन ने सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी कर रहे युवाओं को निःशुल्क मार्गदर्शन प्रदान करने के क्षेत्र में एक नई मिशाल कायम की है। बिहार एवं झारखंड के रहने वाले IAS अधिकारियों द्वारा स्थापित यह संगठन NACS यानी नेशनल एसोसिएशन ऑफ सिविल सर्वेंट के साथ आज करीब 1500 से ज्यादा अधिकारी जुड़ चुके है और ये सभी लोग मिलकर बिहार एवं झारखंड के सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी करने वाले अभ्यर्थियों हेतु मार्गदर्शन नाम से नियमित क्लासेज तथा IGP के नाम से इंटरव्यू गाइडेंस प्रोग्राम संचालित करते है। ये सभी कार्यक्रम इन सिविल सेवकों द्वारा निःशुल्क चलाया जाता है।

 

इस इंटरव्यू गाइडेंस प्रोग्राम की सबसे अनूठी बात यह है कि इसमें शामिल सभी पैनेलिस्ट्स बिहार और झारखंड के ही अधिकारी होते है और अभ्यर्थियों को तनावमुक्त एवं अनुकूल वातावरण में काफी वैज्ञानिक तरीके से गाइड किया जाता है। जैसे इनका व्हाट्सएप्प ग्रुप बनाना जिसमे अधिकारी स्वयं इस ग्रुप में होते है और अभ्यर्थी कोई भी सवाल या डाउट कभी भी पूछ सकते है। इसके अलावा इनके हॉबी, राज्य, जिला, करेंट अफेयर, अंतरराष्ट्रीय घटनाक्रम आदि टॉपिक पर विस्तृत और सारगर्भित चर्चा होती है जो इस विषय के एक्सपर्ट अधिकारी इन टॉपिको पर क्लास लेते है। इसमें अभ्यर्थी काफी सहज होकर कोई भी सवाल पूछ सकते है।

जब NACS की इस शानदार सफलता के बारे में इनके प्रेसिडेंट श्री बी के प्रसाद से पूछा गया तो उनका कहना था-

*”हमारा एक छोटा सा प्रयास था कि हम सभी अधिकारी एक मंच पर आकर अपने राज्य और समाज की बेहतरी के लिए सोचे। इस हेतु हमने युवा अधिकारियों के साथ मिलकर NACS की स्थापना की। आज इसके 1500 से भी ज्यादा सदस्य है जो अपनी राज्य की सेवा और बेहतरी के लिए कमिटेड है।

 

इसके अंतर्गत हमलोग कई प्रोग्राम चलाते है जिसमे सिविल सेवा की तैयारी करने वाले अभ्यर्थियों को सही गाइडेंस देना एक प्रमुख प्रोग्राम है। खासकर उन्हें इंटरव्यू हेतु तैयार करना ताकि उन्हें अच्छे मार्क्स मिले और हाल में बिहार-झारखंड से सिविल सेवा में जो सेलेक्शन कम हो गया है, इस स्थिति को बदला जा सके। आज मुझे गर्व है कि पिछले 2-3 सालों से UPSC सहित BPSC और JPSC के टॉपर हमारे NACS संस्थान से आते है।”*

 

 

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More