Bihar News Live
News, Politics, Crime, Read latest news from Bihar

 

हमने पुरानी ख़बरों को archive पे डाल दिया है, पुरानी ख़बरों को पढ़ने के लिए archive.biharnewslive.com पर जाएँ।

पटना: जिला पदाधिकारी पटना डॉ. चन्द्रशेखर सिंह की अध्यक्षता में श्री गुरु गोविन्द सिंह जी महाराज के 356वीं पावन प्रकाश गुरूपर्व की तैयारी हेतु बैठक आयोजित की गई।

165

 

 

बिहार न्यूज़ लाइव /पटना डेस्क पटना: जिला पदाधिकारी पटना डॉ. चन्द्रशेखर सिंह की अध्यक्षता में श्री गुरु गोविन्द सिंह जी महाराज के 356वीं पावन प्रकाश गुरूपर्व की तैयारी हेतु बैठक आयोजित की गई। यह बैठक तख्त श्री हरमंदिर साहिब जी, पटना सिटी स्थित सभाकक्ष में हुई।

डीएम डॉ. सिंह ने कहा कि *356वां पावन प्रकाश गुरूपर्व का आयोजन 22 दिसम्बर, 2022 से 30 दिसम्बर, 2022 तक* होना निर्धारित है। इसमें देश एवं विदेश से काफी बड़ी संख्या में संगत एवं श्रद्धालुगण भाग लेंगे। कार्यक्रम का आयोजन धूम-धाम से किया जाएगा। उन्होंने कहा कि श्रद्धालुओं एवं पर्यटकों की सुविधा के लिए जिला प्रशासन *प्रतिबद्ध* है। प्रकाश गुरूपर्व के अवसर पर *आवासन, परिवहन, यातायात प्रबंधन, विधि-व्यवस्था संधारण तथा भीड़ प्रबंधन की उत्कृष्ट व्यवस्था रहेगी।

डीएम डॉ. सिंह ने कहा कि *इस वर्ष पावन प्रकाश गुरूपर्व में दो चीजें खास होगी*:-

(१)सम्पूर्ण कार्यक्रम *जीरो-वेस्ट इवेंट रहेगा*। कचरा को सोर्स पर ही संग्रह कर सेग्रिगेट किया जाएगा तथा इसकी प्रोसेसिंग की जाएगी। पटना नगर निगम द्वारा यह कार्य किया जाएगा।

(२) पर्यटकों एवं श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए *पटना एवं राजगीर के बीच नियमित तौर पर उत्कृष्ट बसों का परिचालन* किया जाएगा। श्रद्धालु एवं संगत पटना से राजगीर तथा राजगीर से पटना के बीच तीर्थ स्थानों का भ्रमण सुविधानुसार कर सकते हैं। विदित हो कि राजगीर सिखों का प्रसिद्ध तीर्थ स्थल है। यहां हाल ही में श्री गुरु नानक देव जी महाराज का प्रकाश पर्व मनाया गया था। यहां एक प्रसिद्ध गुरुद्वारा भी है।

डीएम डॉ. सिंह ने कहा कि 356वां पावन प्रकाश गुरूपर्व हेतु चिकित्सा व्यवस्था, पेयजल, स्वच्छता, विद्युत, अग्निशमन, आपदा प्रबंधन सहित सभी बिन्दुओं पर त्वरित गति से तैयारी की जा रही है। पटना जंक्शन, पटना साहिब एवं अन्य रेलवे स्टेशन पर भीड़ नियंत्रण के साथ-साथ *मे आई हेल्प यू काउण्टर* क्रियाशील रहेगा। पटना सिटी क्षेत्र में कार्यक्रम स्थल, कंगनघाट, गुरूद्वारा एवं मार्ग में विभिन्न स्थलों पर *हेल्प डेस्क* की स्थापना की जाएगी। श्रद्धालुओं के आवासन स्थलों का भी समुचित प्रबंधन रहेगा। *मुख्य गुरूद्वारा तख्त श्री हरमंदिर साहिब जी, पटना साहिब भवन, प्रकाश पुंज, गुरू का बाग, बाल लीला गुरूद्वारा, पर्यटक सुविधा केन्द्र, श्री ओ पी शाह सामुदायिक भवन* सहित सभी स्थलों पर 24*7 साफ-सफाई एवं नियमित फॉगिंग की व्यवस्था रहेगी। सफाई व्यवस्था के समुचित संचालन एवं पर्यवेक्षण हेतु नियंत्रण कक्ष क्रियाशील रहेगा। सभी चिन्ह्ति आवासन स्थलों पर अस्थायी शौचालयों का निर्माण एवं पूर्व से निर्मित स्थायी शौचालयों का रख-रखाव सुनिश्चित किया जाएगा। पर्याप्त संख्या में वाटर टैंकर एवं वाटर एटीएम की व्यवस्था रहेगी। प्रकाश की समुचित व्यवस्था रहेगी। आवश्यकतानुसार अस्थायी विद्युत कनेक्शन लिया जाएगा। सभी स्ट्रीट लाईट, हाई मास्ट लाईट तथा मुख्य मार्गों का लाईट क्रियाशील रहेगा एवं पार्किंग स्थलों पर रौशनी की पर्याप्त व्यवस्था रहेगी।

डीएम डॉ. सिंह ने कहा कि संगत एवं श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए रिंग बस की व्यवस्था रहेगी। साथ ही कार्यक्रम के दौरान चिन्हित एरिया में समुचित संख्या में ई-रिक्शा का भी परिचालन कराया जाएगा ताकि श्रद्धालुओं को स्थानीय आवागमन में सुविधा हो।

*डीएम डॉ. सिंह ने कहा कि अशोक राजपथ पर नमामि गंगे एवं अन्य परियोजनाओं के तहत निर्माण कराया जा रहा है। श्रद्धालुओं की सुविधा को ध्यान में रखते हुए सभी निर्माण एजेंसियों को निदेश दिया गया है कि वे दिनांक 25 दिसम्बर, 2022 तक कार्याें को पूरा कर सड़कों को मोटरेबल करें। साथ ही दिनांक 25 दिसम्बर, 2022 से 30 दिसम्बर, 2022 तक कोई भी नया कार्य शुरू नहीं करें।*

डीएम डॉ. सिंह ने कहा कि पुलिस अधीक्षक, यातायात द्वारा ट्रैफिक प्लान के अनुसार यातायात प्रबंधन किया जाएगा। पार्किंग की समुचित व्यवस्था रहेगी। सिविल सर्जन द्वारा आवश्यक सुविधाओं सहित आवासन स्थलों पर कैम्प अस्पताल की स्थापना की जाएगी। पर्याप्त संख्या में चिन्हित स्थलों पर चिकित्सा शिविरों की स्थापना की जाएगी। सभी चिकित्सा शिविरों पर 24*7 चिकित्सा दल एवं पर्याप्त दवा तथा उपकरणों की व्यवस्था रहेगी। पीएमसीएच, आईजीआईसी, एनएमसीएच, गुरू गोविन्द सिंह अस्पताल, आईजीआईएमएस सहित अन्य सरकारी अस्पतालों में चिकित्सा हेतु विशेष तैयारी तथा अतिरिक्त आपात कक्ष की व्यवस्था रहेगी।

जिला अग्निशाम पदाधिकारी द्वारा मुख्य गुरूद्वारा तख्त श्री हरमंदिर साहिब जी, पटना साहिब भवन, प्रकाश पुंज, गुरू का बाग, बाल लीला गुरूद्वारा, पर्यटक सुविधा केन्द्र, श्री ओ पी शाह सामुदायिक भवन सहित सभी चिन्हित स्थलों पर फायर टेंडर एवं अग्निशम यंत्र की व्यवस्था की जाएगी।

डीएम डॉ. सिंह ने कहा कि आपदा प्रबंधन शाखा द्वारा समुचित संख्या में एनडीआरएफ तथा एसडीआरएफ टीम की प्रतिनियुक्ति की जाएगी। *दिनांक 22.12.2022 से 30.12.2022 तक गंगा नदी में निजी नावों के परिचालन को प्रतिबंधित किया गया है।* नागरिक सुरक्षा के स्वयं सेवकों को भी प्रतिनियुक्त किया गया है। *कंगन घाट से गुरूद्वारा गायघाट तक श्रद्धालुओं की सहायता हेतु स्टीमर की सुविधा प्रदान की जाएगी।*

डीएम डॉ. सिंह ने कहा कि कार्यक्रम स्थल, रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट एवं अन्य चिन्हित स्थलों पर पर्यटकों की सुविधा हेतु साईनेज लगाया जा रहा है। विधि-व्यवस्था संधारण हेतु दंडाधिकारियों तथा पुलिस पदाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की जाएगी। विभिन्न स्थलों पर *जन सहायता केन्द्रों* का अधिष्ठापन किया जाएगा। सीसीटीवी से अनुश्रवण किया जाएगा। मुख्य नियंत्रण कक्ष के अतिरिक्त अस्थायी नियंत्रण कक्ष भी क्रियाशील रहेगा। क्यूआरटी एवं स्पेशल टीम का भी गठन किया जाएगा।

डीएम डॉ. सिंह ने कहा कि पावन प्रकाश गुरूपर्व के सफल आयोजन हेतु सभी पदाधिकारियों को *आपस में समन्वय* स्थापित करते हुए दायित्वों का समुचित निर्वहन करना होगा।

बैठक में वरीय पुलिस अधीक्षक, पटना श्री मानवजीत सिंह ढिल्लो, नगर आयुक्त, पटना नगर निगम श्री अनिमेष कुमार पराशर, उप विकास आयुक्त, पटना श्री तनय सुल्तानिया, पुलिस अधीक्षक यातायात श्री अनिल कुमार, सिविल सर्जन, अपर जिला दंडाधिकारी, विधि-व्यवस्था, अपर समाहर्त्ता आपदा प्रबंधन, महाप्रबंधक तख्त श्री हरमंदिर जी, अपर जिला दंडाधिकारी आपूर्ति, अपर जिला दंडाधिकारी सामान्य, जिला परिवहन पदाधिकारी, अनुमंडल पदाधिकारी पटना सिटी, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी, पटना सिटी, महाप्रबंधक पेसू, स्टेशन प्रबंधक पटना जंक्शन/पटना साहिब/गुलजारबाग, कार्यपालक अभियंता पीएचईडी, पथ प्रमंडल, भवन प्रमंडल एवं अन्य भी उपस्थित थे।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More